Neelambar Jha
Best Law Teacher, Author, Writer, Columnist and Guide ...     

FAQ-Online Law Coaching-Hindi

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

सवाल : नीलाम्बर झा द्वारा "Online Law Coaching" क्या है ?

जवाब : नीलाम्बर झा द्वारा "Online Law Coaching", "इन्टरनेट बेस्ड - विडियो लेक्चर" क्लासेस है. यह सारे लेक्चर "स्टूडियो रेकॉर्डेड" हुए हैं, ताकि स्टुडेंट को "सिनेमा - क्वालिटी" ऑडियो एवं विडियो हासिल हो. विडियो लेक्चर के साथ ही अन्य संपर्क सुविधाएं भी उपलब्ध हैं. 

सवाल : विडियो लेक्चर में किस भाषा का इस्तेमाल हुआ है ?

जवाब : विडियो लेक्चर में दोनों, हिन्दी एवं इंग्लिश भाषा का इस्तेमाल हुआ है. 

अपने बृहत् टीचिंग अनुभव, जो की ग्यारह साल से ऊपर है, में नीलाम्बर झा ने यह देखा है की स्टुडेंट को विधि विषयक सारी बातें तभी अच्छे तरह से समझ में आती है, जबकि हिन्दी एवं अंग्रेज़ी दोनों भाषाओं का सरल इस्तेमाल किया जाता है. 

नीलाम्बर झा का यह विश्वास है कि, हिन्दी भाषी स्टुडेंट को भी विधि के बहुत सारे सिद्धांत का अध्ययन इंग्लिश में करना चाहिए. 
ठीक इसी तरह इंग्लिश भाषी स्टुडेंट को भी हिन्दी के विभिन्न "लीगल शब्दावली" का ज्ञान होना चाहिए. वर्तमान के बहुत सारे न्यायिक सेवा परीक्षाओं में हिन्दी एवं अंग्रेज़ी भाषा भी सिलेबस में सम्मिलित है. जिसमे इंग्लिश लीगल शब्दावलियों के हिन्दी शब्द पूछे जाते हैं. 


सवाल : क्लास नोट्स में किस भाषा का इस्तेमाल हुआ है, एवं यह हमें किस तरह मिलेगा?


जवाब : हिन्दी भाषी स्टुडेंट के लिए, यह हिन्दी भाषा में, श्रुतलेख द्वारा हासिल है, एवं इंग्लिश भाषी स्टुडेंट के लिए, इंग्लिश में, श्रुतलेख द्वारा हासिल है. 



सवाल : मैं एक शुद्ध  हिन्दी  भाषी विद्यार्थी हूँ, क्या "Online Law Coaching" मेरे लिए सुटेबल है ?

जवाब : हाँ , नीलाम्बर झा द्वारा "Online Law Coaching " आपके लिए पूर्ण रूप से सुटेबल है. विडियो लेक्चर में दोनों भाषा - हिन्दी एवं अंग्रेज़ी को सरल तरीके से प्रयुक्त किया गया है, तथा यह बात भी ध्यान दे की विधि को समझने के लिए दोनों भाषा - हिन्दी एवं इंग्लिश , का इस्तेमाल आवश्यक है. 

विधि के हिन्दी भाषी विद्यार्थी भी एक बात पूर्ण रूप से समझ ले की उपबंधों का संश्लेषण और विश्लेषण करते समय ठीक उसी फ्रेज, वाक्यांश, खंड, शब्द, शब्दांश, को उठाया जाता है जो की बेयर एक्ट्स में, जज्मेंट्स में प्रयुक्त हुआ है, एवं हमारी अधिकतम विधियाँ मूलतः अंग्रेज़ी में ही पारित हुई है, अतः अंग्रेज़ी भाषा का प्रयोग, विधि को समझने के लिए अत्यावश्यक है. उदाहरण, संपत्ति अंतरण अधिनियम में बहुत सारे स्टुडेंट को भाषा समझने में ही परेशानी हो जाती है, जबकि यह बहुत ही खूबसूरती से बनाया हुआ अधिनियम है. अंततः आपका ध्येय विधि का ज्ञान प्राप्त करना है एवं न्यायिक सेवा परीक्षा पास करना है, तब फिर यह समझ लें कि विधि की अपनी ही भाषा है - "संश्लेषण एवं व्याख्या की भाषा" , न कि हिन्दी अथवा इंग्लिश. 

यह भी ध्यान दे की , हाई कोर्ट , सुप्रीम कोर्ट, के जजमेंट्स अंग्रेज़ी भाषा में होते हैं. विधि के समस्त महान ग्रन्थ अंग्रेज़ी में ही लिखे गए हैं. प्रिवी कौंसिल, चांसरी डिविजन, किंग'स बेंच, क्वीन'स बेंच, हाउस ऑफ़ लोर्ड्स, सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ इंडिया, अन्य सुप्रीम कोर्ट - कनाडा, अमेरिका, समस्त हाई कोर्ट - लाहौर, सिंध, नागपुर, इलाहाबाद, केरल, मद्रास, बॉम्बे, दिल्ली, और अन्य हाई कोर्ट के जजमेंट भी इंग्लिश में ही हैं. (नीचे दिए गए सवाल का भी जवाब देखें) 

सवाल : मैं एक "Pure English Medium" स्टुडेंट हूँ, क्या नीलाम्बर झा की "Online Law Coaching" मेरे लिए सुटेबल है ? 

जवाब : हाँ, नीलाम्बर झा की "Online Law Coaching" "Pure English Medium " स्टुडेंट के लिए भी कम्प्लीटली सुटेबल है. सारे लेक्चर में, जरूरत के अनुसार, दोनों भाषा - हिन्दी एवं अंग्रेज़ी के सरल रूप का इस्तेमाल हुआ है. हिन्दी का इस्तेमाल सभी स्टुडेंट को आसानी से समझाने के लिए किया गया है. यहाँ पर इस बात को स्पष्ट कर देना अत्यावश्यक है कि हमारा मकसद "the intricacies of Law" सिखाना है न कि इंग्लिश भाषा. नीलाम्बर झा ने यह देखा है कि  "Pure English Medium" को भी अगर सिर्फ अंग्रेज़ी में "Law" समझाया जाये तो यह उसके लिए बहुत ही 'टफ' हो जाता है. (ऊपर दिए गए सवाल का भी जवाब देखें) 

सवाल : मैं "Online Law Coaching" का इस्तेमाल कैसे कर पाऊंगा ?

जवाब : पूरी फीस जमा कर देने के बाद आप "Online Law Coaching" का इस्तेमाल कर पाओगे.


सवाल : "Online Law Coaching" के इस्तेमाल के लिए किन चीज़ों की आवश्यकता होगी ?


जवाब : "Online Law Coaching" के इस्तेमाल के लिए नीचे लिखे चीज़ों की आवश्यकता होगी :


एक कंप्यूटर अथवा लैपटॉप

एक हेड सेट अथवा साउंड बॉक्स

अच्छा इंटरनेट कनेक्शन 


सवाल : मुझे कैसा इंटरनेट कनेक्शन  लेना चाहिए ?

जवाब : यथा संभव अच्छा इंटरनेट कनेक्शन  लेना चाहिए.


सवाल : मैं गाँव / छोटे शहर में रहता हूँ, क्या मेरे इंटरनेट कनेक्शन से मैं विडियो लेक्चर देख पाउँगा ?

जवाब : हाँ, हम विडियो लेक्चर डिलीवर करने के लिए सबसे उत्तम तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं, इसलिए आप स्लो इंटरनेट स्पीड में भी हमारे विडियो लेक्चर को देख पायेंगे. हालाँकि, विडियो लेक्चर प्ले को पूर्णतः प्ले होने में कुछ मिनट लग सकते हैं. 

सवाल : मेरे पास कंप्यूटर / लैपटॉप / इंटरनेट कनेक्शन नहीं है, मैं "Online Law Coaching" का इस्तेमाल कैसे कर सकता हूँ ? 

जवाब : आपको अपना पर्सनल कंप्यूटर / लैपटॉप एवं इन्टरनेट कनेक्शन ले लेना चाहिए. एक विधिक प्रोफेशनल के लिए, यह कई अन्य तरीके से भी फायदेमंद है.  एक विधिक प्रोफेशनल के लिए, पर्सनल कंप्यूटर / लैपटॉप एवं इन्टरनेट कनेक्शन अतिआवश्यक भी हो गयी है.


सवाल : मैंने कभी भी इस तरह की पढाई, इन्टरनेट पर नहीं की है. क्या मैं इस तकनीक का इस्तेमाल कर पाउँगा ?  

जवाब : संपूर्ण ट्रेनिंग एवं मार्गदर्शन दिया जाएगा ताकि आप इस सिस्टम का सौ प्रतिशत इस्तेमाल कर पाएं. 

सवाल : क्या मैं सवाल पूछ सकता हूँ ?

जवाब : हाँ, आप सवाल पूछ सकते हो, अतिरिक्त भुगतान आवश्यक है.
सवाल ईमेल एवं मोबाईल (टेलीफोन) से पूछ सकते हो. इस पॅकेज हेतु प्रत्येक नामांकित स्टुडेंट को 9 Tele Cards और 9 Email Cards दिया जाएगा. 


सवाल : मैं अपने क्लास रूम में तुरंत सवाल पूछ लेता हूँ, क्या मुझे उस बात की कमी खलेगी ?

जवाब : नहीं, आपको किसी बात कि कमी नहीं खलेगी. आप हमारे वेबसाइट के अन्य पेजों पर उपलब्ध "डेमो लेक्चर" देखें. यहाँ पर आपको "सीधा अकेले बैठ कर टीचर से पढने का" अनुभव होगा, जो की एक विधि के छात्र के लिए अनूठा अनुभव है. 

नीलाम्बर झा के क्लास कंडक्ट करने का स्पेशल तरीका है, इसमें एक विधि के छात्र के दिमाग में जो भी सवाल उठ सकते हैं उन सबको, विडियो लेक्चर में सम्मिलित कर लिया गया है. 
इसके अलावा नीलाम्बर झा स्टुडेंट को स्पेशल ट्रेनिंग देते हैं - : "Think and Make LAW". 

इसके अतिरिक्त, स्टुडेंट नीचे लिखे चीज़ों पर भी गौर करे: 

छात्र के सवाल इस बात पर निर्भर करते हैं की शिक्षक ने क्लास कैसी ली है. शिक्षक के पढ़ाने के तरीके से सवाल उत्पन्न होती है, नीलाम्बर झा के विडियो लेक्चर में उन सारे सवालों को अच्छे तरीके से सम्मिलित कर लिया गया है, जो छात्रों के दिम्माग में उत्पन्न हो सकते हैं. 

स्टुडेंट के दिमाग का विधियों को लेकर सशक्तीकरण करना, नीलाम्बर झा के पढ़ाने का अनूठा तरीका है.

सवाल : मैं अपने क्लास रूम में दूसरे  स्टुडेंट द्वारा पूछे सवाल भी सुन लेता हूँ, क्या मुझे उस बात की कमी खलेगी ?


जवाब : नहीं, आपको किसी बात कि कमी नहीं खलेगी. सारे संभाव्य प्रश्नों को विडियो लेक्चर में सम्मिलित किया जा चुका है. आप हमारे वेबसाइट के अन्य पेजों पर उपलब्ध "डेमो लेक्चर" भी देखें. इसके अलावा यह भी याद रखें कि, ज्यादातर दूसरे छात्र द्वारा पूछे गए प्रश्न, ज्ञान के बनिस्पत, समस्या पैदा करते हैं, अगर वो प्रश्न उचित ना हो तो. 


सवाल : "मास्टर पैकेज" में किन - किन पेपर को सम्मिलित किया गया है ? 


जवाब : निम्नलिखित पेपर को सम्मिलित किया गया है: 


Jurisprudence

Muslim Law

The Code of Civil Procedure, 1908

The Code of Criminal Procedure, 1973

The Constitution of India

The Hindu Adoptions & Maintenance Act, 1956

The Hindu Marriage Act, 1955

The Hindu Minority and Guardianship Act, 1956

The Hindu Succession Act, 1956

The Indian Contract Act, 1872

The Indian Easements Act, 1882

The Indian Evidence Act, 1872

The Indian Partnership Act, 1932

The Indian Penal Code, 1860

The Limitation Act, 1963 

The Registration Act, 1908 

The Sale of Goods Act, 1930

The Specific Relief Act, 1963

The Transfer of Property Act, 1882


सवाल : क्या मैं 'सिलेबस' के बाहर (Out of Syllabus) के प्रश्न पूछ सकता हूँ ? 


जवाब : नीलाम्बर झा, छात्र के किसी भी प्रश्न को, आउट ऑफ़ सिलेबस नहीं मानते हैं.  विधि के उपबंधों अथवा किसी भी चीज़ को समझने में स्टुडेंट के दिमाग में जो भी सवाल आयेंगे उनका बहुत ही बारीकी से जवाब दिया जाएगा. 


सवाल : मेरे शैक्षिक संबंधी सवालों का जवाब कौन देगा ?


जवाब : सबसे ज्यादा प्रसन्नता की बात है कि आपके सभी शैक्षिक संबंधी सवालों का जवाब स्वयं नीलाम्बर झा देंगे.


सवाल : मास्टर प्रोग्राम - नीलाम्बर झा - Online Law Coaching की फीस क्या है ?

जवाब : मास्टर प्रोग्राम की फीस रुपये तेंतीस हज़ार से लेकर रुपये सत्तावन हज़ार तक है. (Rs. 33,000 to Rs. 57,000)


सवाल : क्या मैं फीस किस्तों (Installment) में दे सकता हूँ  ?


जवाब : यह देखते हुए की फीस बहुत ही किफायती एवं बहुत ही कम है, 'Master Program' पर किसी तरह की किस्तों की सुविधा नहीं रखी गयी है. परन्तु अन्य प्रोग्राम पर किस्त की सुविधा उपलब्ध है. 


सवाल : क्या फीस पर कोई डिस्काउंट मिलेगा ?


जवाब : यह देखते हुए की फीस बहुत ही किफायती एवं बहुत ही कम है, किसी भी प्रोग्राम पर किसी तरह की छूट  (discount) की सुविधा नहीं रखी गयी है.


सवाल : क्या बात-चीत कर के फीस को बढाया - घटाया जा सकता है ?


जवाब : नहीं, फीस पूर्णतः निश्चित एवं बहुत ही कम है . 


सवाल : क्या मैं खरीदने के पहले 'डेमो लेक्चर' देख सकता हूँ ?


जवाब : हाँ, डेमो लेक्चर के लिए, आप इस वेबसाइट के अन्य डेमो लेक्चर वाले पेजों को क्लिक करें एवं गूगल पर भी सर्च कर लें.



सवाल : क्या ,मैं कोई एक - दो पेपर खरीद सकता हूँ ?

जवाब : हाँ, कुछ पेपर पर यह पॅकेज प्राप्त है. अधिक जानकारी के लिए अम्पूर्ण पॅकेज की जानकारी होम पेज पर उपलब्ध है. विधि - एक पेपर है. सुविधाजनक रूप से बोलने के लिए हमने इसकी कई शाखाएं बनाई है. विधि - एक है, इस तरह से कि, समस्त पेपर एक - दूसरे से जुड़े हुए हैं.  उदहारण - The Transfer of Property Act, 1882 (जो कि इंटरप्रिटेशन में सबसे आसान है) पढ़ाते समय, नीलाम्बर झा, निम्नलिखित विधियों को जोड़ते हैं - The Indian Succession Act, 1925; The Indian Trusts Act, 1882; The Registration Act, 1908; The Code of Civil Procedure, 1908; The Indian Contract Act, 1872; The Indian Easements Act, 1882; The Indian Evidence Act, 1872; The Sale of Goods Act, 1930; The Specific Relief Act, 1963; and more…


सवाल : मैं एडिशनल डिस्ट्रिक्ट / जज - उच्च न्यायिक सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहा हूँ, क्या "मास्टर प्रोग्राम" मेरे लिए उचित है ?


जवाब : हाँ , Master Program - Neelambar Jha - Online Law Coaching, ADJ / HJS exams के लिए संपूर्ण रूप से उचित है. 


सवाल : क्या गारंटी  है ?


जवाब : गारंटी के बारे में संपूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें...


सवाल : मास्टर प्रोग्राम - नीलाम्बर झा में एडमिशन के लिए क्या करें ?


जवाब : एडमिशन के लिए यहाँ क्लिक करें...


सवाल : क्या मुझे और भी किताबें खरीदने की जरूरत होगी ?


जवाब : मास्टर प्रोग्राम - नीलाम्बर झा संपूर्ण है, एवं आपको कोई भी एडिशनल मटेरियल की जरूरत नहीं होगी - परन्तु ज्ञान की कोई सीमा नहीं होती, एवं विधि के छात्र को यह नहीं भूलना चाहिए.


सवाल : मुझे सिर्फ अपने राज्य के न्यायिक सेवा परीक्षा की तैयारी करनी है, तो मुझे कौन सा पैकेज लेना चाहिए ?


जवाब : मास्टर प्रोग्राम - नीलाम्बर झा पूर्णतयः उपयुक्त है, चाहे आप किसी भी राज्य की तैयारी करना चाहते हो. 


सवाल : मुझे बहुत ज्यादा नहीं पढना है , तो मुझे कौन सा पैकेज लेना चाहिए ?


जवाब : आपको स्पेशल रूप से काट - छांट कर पढना बता दिया जाएगा. खुशी की बात है की तब भी आपको संपूर्ण "मास्टर प्रोग्राम - नीलाम्बर झा" लाइसेंस दिया जाएगा.


सवाल :  मुझे एडमिशन लेने में लेट हो गया और अब परीक्षा बहुत ही नज़दीक है, मेरे पास क्या उपाय है ?

जवाब : आपको स्पेशल रूप से काट - छांट कर पढना बता दिया जाएगा. खुशी की बात है की तब भी आपको संपूर्ण "मास्टर प्रोग्राम - नीलाम्बर झा" लाइसेंस दिया जाएगा.

सवाल :  कौन से लीडिंग केस एवं जजमेंट्स पढने हैं ?

जवाब : विडियो लेक्चर में हर जगह इसे बताया गया है .

सवाल : बेयर एक्ट्स के "Interpretations and Interconnections" को कैसे समझा जाए ?

जवाब : विडियो लेक्चर में हर जगह इसे बताया गया है. 


सवाल : क्या मुझे मेरे अपने न्यायिक सेवा परीक्षा के लिए स्पेशल रूप से गाइड किया जायेगा ?

जवाब : हाँ, अपने "Tele Cards" का सही तरीके से इस्तेमाल करें, एवं एग्जाम के समय के लिए बचाकर रखें.

सवाल : क्या मुझे एग्जाम बूस्टर हेल्प दिया जायेगा ?

जवाब : हाँ, अपने "Tele Cards" एग्जाम के समय के लिए बचाकर रखें.

सवाल : क्या मुझे एक्स्ट्रा "Tele Cards" "Email Cards"  दिया जायेगा ?

जवाब : हाँ, परन्तु यह सिर्फ नीलाम्बर झा का अपना व्यक्तिपरक निर्णय होगा. सारे एडिशनल कार्ड्स मुफ्त में दिए जायेंगे. परन्तु सिर्फ मेहनती छात्रों / विधि के प्यासों / विधि के सच्चे छात्रों, को एक्स्ट्रा कार्ड्स दिए जायेंगे. अतः प्रथम दिन से ही नीलाम्बर झा को अपने प्रश्नों से प्रभावित करें.